वॉशिंगटन। मोबाइल का नशा इन दिनों लोगों पर चढ़ा हुआ है। स्मार्टफोन ने लोगों को भीड़ में भी अकेला कर दिया है। इंटरनेट की सुविधा के साथ यह स्मार्टफोन जितनी खूबियों से भरा है, उतना ही इसके जोखिम भी हैं। यह कई तरह से लोगों की अब जान लेने लगा है। सेल्फी के चक्कर में दुनियाभर में जहां कई लोग जान गंवा चुके हैं।

वहीं, ऑनलाइन गेम्स भी कुछ कम खतरनाक साबित नहीं हो रहे हैं।

एक ऐसे ही मामले में प्राग की एक महिला की मौत हो गई। पुलिस ने रविवार को कहा कि जीपीएस आधारित खजाने की खोज में एक महिला नाले में गिर गई थी। वहीं, एक व्यक्ति लापता बताया जा रहा है, जिसे प्राग के ड्रेनेज सिस्टम में देखा गया था।

पुलिस ने बताया कि वे चार लोगों के जियोकैचिंग समूह में से एक थे। वे अपने स्मार्टफोन के जीपीएस का उपयोग करते हुए दुनिया भर में छिपे छोटे खजाने की खोज कर रहे थे। जब तूफान की वजह से हुई तेज बारिश में वे शनिवार की रात को चेक राजधानी की भूमिगत ड्रेनेज सिस्टम में फंस गए थे।

दिल्ली की गॉड मदर है बसीरन, आठ बेटों सहित उस पर दर्ज हैं 113 संगीन मामले

पुलिस प्रवक्ता जान रैबेन्सकाय ने बताया Vltava नदी में एक महिला को मृत पाया गया है और एक आदमी अभी भी लापता बताया जा रहा है। सीवर सिस्टम Vltava नदी में ही गिरता है। 27 वर्षीय पीड़ित महिला की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है।

समूह के अन्य दो सदस्य ड्रेनेज सिस्टम से निकलने में सफल रहे और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि लापता आदमी की तलाश रविवार को फिर से शुरू की गई है।

किसान के बेटे ने क्रैक किया जेईई एडवांस, बड़ा भाई कर रहा है IIT से एमटेक