मेलबर्न। ऑस्ट्रेलियाई शोधकर्ताओं ने डेंगू के प्रसार को रोकने का नया तरीका ईजाद किया है। डेंगू मच्छरों से फैलने वाली गंभीर बीमारी है। इस बीमारी का अब तक कोई टीका उपलब्ध नहीं है।

यूनिवर्सिटी ऑफ मेलबर्न से जुड़े शोधकर्ताओं के दल ने पाया कि एक कीट बैक्टीरिया वोल्बाशिया के संपर्क में आने वाले मच्छर डेंगू के विषाणु को फैलाने में सक्षम नहीं होते हैं। माइक्रोबायोलॉजी एंड इम्यूनोलॉजी विभाग के कैमरन सिमंस ने बताया कि यह खोज डेंगू के प्रसार में अभूतपूर्व कमी ला सकती है।

उन्होंने बताया कि वैज्ञानिकों ने इसका परीक्षण वास्तविक परिस्थितियों में किया है। वोल्बाशिया से प्रभावित और गैर प्रभावित मच्छरों को डेंगू के मरीज के खून के संपर्क में लाया गया। वोल्बाशिया ने कारगर ढंग से मच्छर के शरीर और लार में डेंगू के संक्रमण को रोक दिया। इस कारण वे मच्छर मनुष्य में डेंगू का प्रसार करने में सक्षम नहीं रहे।