कुआलालंपुर। मलेशिया अपने लापता विमान की खोज में 90 लाख डॉलर (करीब 53 करोड़ रुपये) से अधिक की राशि खर्च कर चुका है। एक अधिकारी की ओर से सोमवार को यह जानकारी दी गई।

शिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक मलेशिया के परिवहन मंत्री हिशमुद्दीन हुसैन ने बताया कि खोजी अभियान में लगी देश की पांच एजेंसियों को लेकर भोजन और ईंधन पर यह लागत आई। इन एजेंसियों में रॉयल मलेशियन एयर फोर्स, नौसेना, पुलिस, अग्नि व बचाव विभाग और मलेशियन मैरीटाइम इंफोर्समेंट एजेंसी शामिल हैं। मंत्री ने कहा कि अन्य देशों द्वारा खोजी अभियान के लिए जो राशि प्रदान की गई, उसकी तुलना में मलेशिया को कम खर्च वहन करना पड़ा।

मलेशिया एयरलाइंस का विमान (फ्लाइट एमएच 370) आठ मार्च को कुलाआलंपुर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से बीजिंग के लिए उड़ान भरने के एक घंटे बाद दक्षिण चीन सागर के ऊपर रडार से गायब हो गया था। विमान में 227 यात्री और चालक दल के 12 सदस्य सवार थे। प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने 24 मार्च को घोषणा की थी कि विमान दक्षिणी हिंद महासागर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया है।