लंदन। इंग्लैंड और वेल्स में अपस्कर्टिंग यानी स्कर्ट पहने किसी महिला की आपत्तिजनक तस्वीर लेना एक अपराध घोषित कर दिया गया है। यहां 18 महीने के अभियान के बाद यह कानून बनाया गया है।

स्कर्ट पहनी किसी लड़की या महिला की जानकारी के बिना उसकी आपत्तिजनक तस्वीर लेना या वीडियो बनाना, जिससे महिला को शर्मिंदगी महसूस हो, अब एक पृथक अपराध बन गया है। ऐसे अपराधियों को दो साल के कारावास की सजा होगी और उसका नाम देश के यौन अपराध के दोषियों में जोड़ा जाएगा।

‘अपस्कर्टिंग’ की पीड़ित गिना मार्टिन के नेतृत्व में इस कानून की मांग को लेकर 18 महीने तक अभियान चलाया गया था। इसके बाद इस अपराध से जुड़े विधेयक को गुरुवार को महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की मंजूरी मिल गई। इसके साथ ही अपस्कर्टिंग कानून बन गया।

नया कानूनी प्रावधान लागू होने से पहले तक इस तरह की तस्वीर लेने वाले के खिलाफ ‘सार्वजनिक शालीनता’ के खिलाफ कृत्य के तहत मामला चलाया जाएगा। अब इस तरह के कृत्यों के लिए स्पष्ट कानूनी प्रावधान लागू किया गया है।