वाशिंगटन। आलोचनाओं के बावजूद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी उस टिप्पणी का बचाव किया है जिसमें उन्होंने कुछ अवैध प्रवासियों के लिए "जानवर" शब्द का इस्तेमाल किया था। हाइट हाउस में शुक्रवार को संवाददाताओं से मुखातिब ट्रंप ने कहा कि बिना संकोच एमएस-13 जैसे गिरोहों के लिए वह इस शब्द का इस्तेमाल करते रहेंगे।

ट्रंप ने गुरुवार को कहा था, "हमारे देश में लोग आ रहे हैं या आने की कोशिश कर रहे हैं। हम उनमें से बहुतों को रोक रहे हैं। आप यकीन नहीं करेंगे कि ये लोग कितने बुरे हैं, ये आदमी नहीं जानवर हैं।" मेक्सिको के विदेश मंत्रालय ने अमेरिका के विदेश विभाग को एक पत्र लिखकर ट्रंप के बयान पर आपत्ति जताई है।

क्या है एमएस-13-

एमएस-13 अपराधियों का अंतरराष्ट्रीय गैंग है। यह 1980 में अमेरिका में अस्तित्व में आया था। बाद में यह कनाडा, मेक्सिको और अमेरिकी महाद्वीप के अन्य देशों में फैल गया। यह गैंग अपनी क्रूरता, ड्रग्स तस्करी और खून-खराबे के लिए जाना जाता है।