इस्लामाबाद। पाकिस्तान की सेना की क्रूरता का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसे देखकर साफ हो जाएगा कि पाकिस्तानी सेना किस तरह से निहत्थे बलूच लोगों का दमन कर रही है। वीडियो को फ्री बलूचिस्तान मूवमेंट से जुड़े एक राजनीतिक कार्यकर्ता बीबगर बलूच ने ट्विटर पर जारी किया है। इसमें दिख रहा है कि पाकिस्तानी सेना एक निहत्थे बलूच आदमी को घर से खींचता है और उस पर गोलियों की बौछार कर देती है।

बीबगर बलूच के शेयर किए गए इस वीडियो के अंत में पाकिस्तानी सेना के जवानों को ठहाके भी लगाते हुए देखा-सुना जा सकता है। मारे गए शख्स की पहचान नहीं हो पाई है। फुटेज के सामने आने के बाद एक बार फिर से पाकिस्तानी आर्मी द्वारा बलूच लोगों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई पर गंभीर सवाल खड़े हो रहे हैं।

फ्री बलूच एक्टिविस्ट लगातार पाकिस्तानी कानून प्रवर्तन एजेसियों के लोगों द्वारा की जा रही निर्दोष बलूच लोगों की हत्याओं की आलोचना कर रहे हैं। बलूचिस्तान में पाकिस्तानी सेना लोगों के गायब देती है और उनके क्षत-विक्षत शव बरामद होते रहते हैं।

इसे लेकर बलूच रिपब्लिकन पार्टी, बलूच नेशनल मूवमेंट, फ्री बलूचिस्तान मूवमेंट जैसे समूह पश्चिमी देशों में भी पाकिस्तानी कार्रवाई का विरोध करते रहे हैं। मगर, मामले की गंभीरता दिखाने और पश्चिमी देशों का ध्यान पाकिस्तानी गतिविधियों की ओर ले जाने के बावजूद पाकिस्तान सरकार की ओर से अब तक कोई बदलाव देखने को नहीं मिला है।

पाकिस्तान के सुरक्षा बलों ने हजारों बलूच राजनीतिक कार्यकर्ताओं और समर्थकों को मार डाला गया है। वहीं, कई बलूच लोगों को जेल में बंद करके रखा गया है। परिवार के सदस्यों और मानवाधिकार संगठनों के बार-बार अनुरोध करने के बावजूद इस्लामाबाद ने पीड़ितों को नहीं छोड़ा है।

बताते चलें कि बलूचिस्तान में प्राकृतिक संसाधनों जैसे तेल, प्राकृतिक गैस, कोयला, तांबा, सल्फर, फ्लोराइड और सोने का भंडार है। इसके बावजूद यह पाकिस्तान का सबसे कम विकसित प्रांत है।